बिहार में आसमान से गिरा 15 किलो का रहस्यमयी पत्थर, देखने पहुंचे नीतीश कुमार

0

पटना। बिहार के मधुबनी जिले के लौकही प्रखंड के गांव के एक खेत मे आसमान से एक अजीबोगरीब पत्थर गिरने की एक घटना सामने आई है। जिले के लौकही थाना स्थित कौरयाही गांव के भगवानपुर चौड़ी में सोमवार दोपहर को अचानक आसमान से लगभग 15 किलो का एक पत्थर धान के खेत में आ गिरा। आसमान से गिरे 15 किलोग्राम वजन के रहस्यमय पत्थर (उल्कापिंड) को बुधवार को पटना लाया गया है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सोमवार को मधुबनी के लौकही में आसमान से खेतों में गिरे काले पत्थर को बिहार संग्रहालय में रखा जाएगा, ताकि आम लोग इस पत्थर को देख सकें।

तेज आवाज के साथ पिंड जब खेत में गिरा
लौकही के कौरियाही-ककहिया बधार में सोमवार दोपहर लगभग 12 बजे आसमान से एक पिंड गिरा। गांव के लोगों का दावा है कि यह आसमान से गिरा है। जब यह पत्थर गिरा था तब बहुत तेज आवाज हुई थी। प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि तेज आवाज के साथ पिंड जब खेत में गिरा तो धुआं निकलने लगा। गिरने के साथ वह लगभग छह फुट नीचे तक जमीन में चला गया। खेतों में काम कर रहे मजदूर वहां से भाग गए। थोड़ी देर बाद जब धुआं निकलना बंद हुआ तो लोग वहां पहुंचे।

पत्थर में चुंबकीय गुण हैं
सूचना के बाद लौकही के थानाध्यक्ष ने उस पत्थर को कब्जे में लिया। इस पत्थर में चुंबकीय गुण हैं और यह लोहे को अपनी ओर आकर्षित करता है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को पत्थर को देखने के बाद कहा कि इस पत्थर की जांच कराई जाएगी। लोग इसे संभावित उल्का पिंड बता रहे हैं, जिसमें चुंबकीय शक्ति है। इससे पहले स्थानीय लोगों ने उक्त पत्थर को निकट के ही एक पीपल वृक्ष के नीचे रखकर पूजा अर्चना शुरू कर दी थी।

पत्थर को भेजा जाएगा जांच के लिए
जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि कोरियाही चौक के बगल में धान के खेत में आसमान से गिरे काले पत्थर को लेबोरेटरी में जांच के लिए भेजा जाएगा। फिलहाल इसे जिला कोषागार में रखा जाएगा। इसे अहमदाबाद, इसरो या बिहार सरकार के साइंस एंड टेक्नोलॉजी विभाग में भेजा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here